giriraj singh brhameshwar mukhiya

केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के विरोधी मानो इसी ताक में रहते हैं कि कब वे कोई बयान दे और कब वे उसे तिल का ताड़ बनाकर हंगामा शुरू कर दे. बयान तो बयान विरोधी उनके ट्वीट पर भी नज़र रखते हैं और ट्विट के शब्दों में अपने लिए अवसर तलाशते रहते हैं. आज बड़े दिनों बाद उन्हें इसका मौका मिला जब उन्होंने किसान नेता और नक्सलियों के काल स्व. ब्र्हमेश्वर मुखिया को ट्वीट कर नमन किया. उन्होंने लिखा –

बस फिर क्या था विरोधियों और नक्सल समर्थकों का हल्लाबोल शुरू हो गया. नक्सलवाद और बिहार में नरसंहारों को सबसे ज्यादा हवा देने वाली पार्टी भी गिरिराज सिंह के ट्वीट को पचा नहीं पाया और उलटबासी करते हुए ताबड़तोड़ दो ट्वीट किए –

दूसरी तरफ तथाकथित दलित चिंतक दिलीप मंडल भी इस ट्वीट को देखकर हायतौबा करने लग गए. वैसे आपको बताते चले कि इनका ये स्यापा हर साल का रहता है. ब्र्हमेश्वर मुखिया को हर शहादत दिवस पर आलोचनातमक ट्वीट कर ये जनाब नमन करना नहीं भूलते. इस बार मंडल लिखते हैं –

बहरहाल इस तरह के ट्विट का जवाब किसान नेता ब्र्हमेश्वर मुखिया के चाहनेवालों ने उन्हीं के वॉल पर बखूबी दे दिया. देखिये कुछ जवाब –

Anish Sharma @RJDforIndia
ये दलित लालू के बहकावे मे आकर जमीन छीनेंगे, हत्या करेंगे तो बदले मे आरती उतारे क्या? 5 के बदले 50 मारने का नारा दिया था मुखिया जी ने तब जाकर लालू के सपनों पर पानी फिरा था नहीं तो आज हम भी कश्मीरी पंडितों कि तरह अपने हि देश मे रिफ्यूजी बन गए होते। अपने आत्मसम्मान और आत्मरक्षा के लिए आवाज उठाना राजद्रोह नहीं। नमन है ऐसे योद्धा को अपने लिए नहीं समाज के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया।

saurabh singh Replying to @RJDforIndia

स्वयं अपनी ही असफलता का प्रमाण दे रहे हो। जाती के नाम पर जो तांडव उस कालखण्ड में मचा था बिहार में वो शायद ही कोई भूल पाये, और उसी एजेंडे को पुनः सफल बनाने में लगे हो लेकिन बिहार की जनता समझ चुकी है।

@BhumiharMantra Replying to @Profdilipmandal
बात ये है कि ब्र्हमेश्वर मुखिया का खौफ अब भी नक्सलियों पर हावी है. लेकिन तुम्हारा ये डर अच्छा लगा. नक्सलियों को पूरे देश में उनकी भाषा में किसी ने जवाब दिया तो वह मुखिया जी ही थे.न जाने कितने कॉमरेड उनके आगे ढेर हो गए.अंत में जब उन्होंने हथियार छोड़ दिया था तब पीछे से वार किया.

Ranjeet Dasoundi Replying to @Profdilipmandal
बड़ी बेशर्मी से झूठ बोल लेते हैं मंडल साहब आप रणवीर सेना ने नहीं मारा#जितनी जातियां आपने गिनाई है उनके गुंडों के अत्याचार से भोले भाले आम आदमी को बचाया है#सत्ता पाने के लिए झूठ पर झूठ बोलते#मगर जनता जान गई जातिगत नफरत की राजनीति करने वाले आप जैसे ठेकेदारों के दिन लद गए

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here