bhumihar top trend

ट्विटर के टॉप ट्रेंड में पहुंचा #उड़ता_बिहार_मरता_भूमिहार : ट्विटर के ‘पेड हैशटैग’ (paid hashtag) की भीड़ में सबको पछाड़ते हुए जब कल #उड़ता_बिहार_मरता_भूमिहार नाम का हैशटैग अकस्मात ट्रेंड करने लगा तो कई लोग हैरान हो गए तो कईयों के होश फाख्ता हो गए. इस ट्विटर ट्रेंड पर 50 हजार से ऊपर ट्वीट और रीट्वीट हुए. यह हैशटैग ट्विटर के टॉप ट्रेंड की सूची में पूरे भारत में नंबर-3 और बिहार में नंबर-1 पर न केवल पहुंचा, बल्कि घंटों उसपर कब्जा भी जमाए रहा. इस वजह से यह हैशटैग भारतवर्ष की नज़र में आ गया और उधर बिहार सरकार और उसके आला अफसरों की नींद उड़ गयी.

क्या है मामला ?

गया के कोंच थाना अंतर्गत सिंदुआरी गांव में 6 मई को गोलीबारी हुई. इस गोलीबारी में चार लोगों को गोली लगी जिसमें से दो लोगों की मौत हो गयी और बाकी के दो लोगों की स्थिति गंभीर है. गोली जिन चार लोगों (उदय शर्मा, गिरिजेश शर्मा, श्रीनाथ शर्मा और वीरेंद्र शर्मा)को लगी वे सभी किसान थे और जाति से भूमिहार है. इस सामूहिक हत्याकांड के बाद पुलिस सुस्त चाल में 2-3 घंटे बाद आयी. बहरहाल उसके बाद मामले को लेकर जदयू नेता राकेश यादव समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया गया, लेकिन इस नरसंहार में शामिल अन्य लोगों को गिरफ्तार करने में पुलिस अबतक नाकाम रही है. गौरतलब है कि राकेश युवा जदयू का गया जिला महासचिव है और यही वजह है कि पुलिस और प्रशासन दवाब में है.

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक, राकेश यादव, विमलेश यादव और रामबालक यादव हथियार के साथ सिंदुआरी गांव आए और ताबड़तोड़ फायरिंग करने लगे. जिसमें उदय शर्मा, गिरिजेश शर्मा, श्रीनाथ शर्मा और वीरेंद्र शर्मा को गोली लग गई जिसमें उदय की मौके पर ही मौत हो गई जबकि गिरिजेश ने इलाज के लिए पटना आने के दौरान दम तोड़ दिया. वहीं श्रीनाथ के पैर में गोली लगी है और वीरेंद्र के पेट में गोली लगी है.

#उड़ता_बिहार_मरता_भूमिहार हैशटैग की कहानी

गया के कोंच थाने के सिंदुआरी गांव में हुई इस घटना की सूचना जब फैली तो पूरे समाज में इसे लेकर रोष व्याप्त हो गया. पुलिस, प्रशासन और मीडिया की चुप्पी ने इसे और हवा दी. अंत में समाज के बुद्धजीवियों ने आनन-फानन में ट्विटर के जरिये इस हैशटैग को ट्रेंड कराने का निर्णय लिया. फिर भूमंत्र के एक सदस्य ने #उड़ता_बिहार_मरता_भूमिहार हैशटैग का सुझाव दिया जो सबको पसंद आया और इसपर काम शुरू हो गया. दोपहर तीन बजे से ट्विटर पर हैशटैग को शुरू करने का समय निश्चित कर दिया और बाकी सदस्यों को भी यथासंभव सूचित करने की कोशिश की गयी. निर्धारित समय पर यह हैशटैग शुरू हुआ और देखते-ही-देखते पहले टॉप-30, फिर टॉप-10 और फिर टॉप-3 तक जा पहुंचा. खास बात ये रही कि इस हैशटैग को ट्रेंड कराने के लिए सभी मतभेदों को भूलाकर पूरा समाज इकठ्ठा हो गया. ऐसी चट्टानी एकता इसके पहले कभी नहीं देखी गयी.

#उड़ता_बिहार_मरता_भूमिहार के कुछ टॉप ट्वीट – @bhumantra
आइये देखते हैं कि इस हैशटैग में किसने क्या कहा? चूँकि सबके ट्वीटस को इस रिपोर्ट में शामिल करना मुश्किल है, इसलिए हम टॉप ट्रेंड के कुछ टॉप ट्वीट को हम नीचे दे रहे हैं. बाकी के ट्वीट को आप हैशटैग पर जाकर पढ़ सकते हैं. साथ ही भूमंत्र का शुरूआती ट्वीट भी जिसमें हैशटैग संबंधित सूचना दी गयी थी –