Ex DGP Abhayanand

 

बिहार की जनता कठिन प्रश्न पत्र सेट करने के लिए बधाई की पात्र है। आगे भी राजनीतिज्ञों को परीक्षा के एक दिन पूर्व संध्या में पढ़ाई कर अच्छे अंक लाने की आदत समाप्त करनी होगी।

बिहार विधानसभा चुनाव-2020 में, बिहार की जनता ने राजनीतिज्ञों के लिए अत्यंत कठिन प्रश्न चुने। पूर्व की परीक्षाओं की भाँति, सरल प्रश्न देकर अधिक अंक पा जाने की प्रथा समाप्त हुई।

आशा है कि बिहार की जनता राजनीतिज्ञों को आने वाले चुनाव में न केवल और भी कठिन प्रश्न हल करने को देगी, बल्कि उनको लगातार पढ़ने और आने वाली परीक्षा के लिए सतत् प्रैक्टिस करते रहने के लिए प्रेरित भी करेगी।

बिहार की जनता कठिन प्रश्न पत्र सेट करने के लिए बधाई की पात्र है। आगे भी राजनीतिज्ञों को परीक्षा के एक दिन पूर्व संध्या में पढ़ाई कर अच्छे अंक लाने की आदत समाप्त करनी होगी।

ज्ञात हो की आपे समाज के मर्गदर्शक मंडल का भी यह प्रयास था की चुनाव में जनता अपने अधिकारों को समझें और अपने हक़ में सही कंडिडेट का चुनाव करे न की जाति या पार्टी के आधार पर और बिहार की जनता ने कमोबेश इस दिशा में प्रयास की शुरुआत कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here