कोरोनावायरस (Coronavirus) को लेकर बिहार (bihar) सरकार तमाम एहतियाती कदम उठ रही हैं। इसी के तहत कोरोना से संदिग्ध लोगों की लगातार निगरानी की जा रही है। इस बीच, हालांकि बिहार में एक भी पॉजिटिव मामला नहीं आया है। झारखंड के भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) अधिकारी और उनकी पत्नी का भी रिपोर्ट सोमवार को आया है, जिसे निगेटिव पाया गया है।

पटना के पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल के प्राचार्य डॉ़ विद्यापति चौधरी ने आईएएनएस को सोमवार को बताया कि आज (सोमवार) एक संदिग्ध पीड़ित को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि फिलहाल यहां कोरोना के छह संदिग्ध मरीज भर्ती हैं, जिनकी रिपोर्ट आज आ गई है। सभी के रिपोर्ट निगेटिव हैं।

चौधरी ने बताया कि आज आए संदिग्ध व्यक्ति के सैम्पल मंगलवार को भेजा जाएगा।

पीएमसीएच के सूत्रों के मुताबिक झारखंड के आईपीएस अधिकारी और उनकी पत्नी शादी के बाद इटली घूमने गए थे, जहां से लौटने पर उन्हें पटना हवाई अड्डे से सीधे पीएमसीएच के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है।

इधर, पीएमसीएच के प्राचार्य ने कहा कि सभी व्यक्तियों के रिपोर्ट निगेटिव आए हैं, इस कारण इन्हें घर पर निगरानी (होम सर्विलांस) में भी रखा जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि बिहार में अब तक 57 संदिग्धों की जांच कराई गई है, परंतु अब तक एक भी पॉजिटिव केस नहीं मिला है।

बिहार स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, 25 जनवरी से अब तक कोरोना से पीड़ित देशों से लौटे कुल 274 यात्रियों को सर्विलांस (निगरानी) पर रखा गया, जिसमें से 86 लोगों ने 14 दिनों के निगरानी पूरी कर ली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here